अपने घर के मुख्य द्वार पर लगा लें ये पौधा, चुंबक की तरह खींचता है धन, बरसती है शनि देव की कृपा !

Posted on

हिंदू धर्म में बहुत से पौधे किसी न किसी देवी-देवता को प्रिय हैं या फिर उनमें देवी-देवताओं का वास होता है. ऐसे ही वास्तु के अनुसार शमी का पौधा शनि देव का प्रिय होता है. इसे घर में सही जगह लगाने से शनि देव की कृपा बरसती है और गरीब भी अमीर बन जाता है. जानें इसे घर के मुख्य द्वार पर लगाने के फायदे.

शमी के पौधे की सही दिशा
वास्तु जानकारों के अनुसार शमी का पौधा तभी सकारात्मक प्रभाव देता है, जब उसे सही दिशा और सही जगह पर रखा जाए. वास्तु के अनुसार शमी के पौधे को घर के मुख्य द्वार पर लगाना सबसे शुभ माना गया है. घर के मुख्य द्वार पर इस तरह लगाएं, कि जब आप घर से बाहर निकलें तो शमी का पौधा आपके दाईं हाथ की ओर होना चाहिए.

घर के अंदर यहां लगाएं
अगर घर के मुख्य द्वार पर या घर के बाहर लगाना संभव नहीं है, तो घर के अंदर छत या बालकनी में भी लगाया जा सकता है. लेकिन वास्तु में कहा गया है कि शमी के पौधे को घर के अंदर लगाने से परहेज करें. साथ ही, शमी के पौधे को हमेशा घर की दक्षिण, पूर्व और ईशान कोण में ही लगाना चाहिए.

इस शुभ दिन लगाएं शमी का पौधा
शमी का पौधा शनि देव का प्रिय है. इसलिए शनि देव की कृपा पाने के लिए शमी का पौधा शनिवार के दिन लगाया जाना चाहिए. वहीं, इसे विजयदशमी के दिन भी लगाया जा सकता है. कहते हैं कि दशहरा के दिन शमी का पौधा लगाना भाग्य में वृद्धि करता है.

पौधे को लेकर रखें इन बातों का ध्यान
सप्ताह में सिर्फ शनिवार के दिन ही ये पौधा लगाएं. वास्तु शास्त्र के अनुसार शमी के पौधे को घर के भीतर इनडोर प्लांट की तरह न लगाएं. अंधेरे वाली जगह पर न रखें. शमी का पौधा लगाने के बाद इसे छोड़ना नहीं चाहिए. बल्कि नियमित रूप से इसकी देखभाल और पूजा-पाठ करनी चाहिए. इतना ही नहीं, इस दिन शमी के पौधे के पास शनिवार के दिन दीपक जरूर जलाएं.

भोलेनाथ का भी प्रिय है ये पौधा
शनि देव के साथ भगवान शिव को भी शमी का पौधा बेहद प्रिय है. इसलिए शिव जी की पूजा के दौरान भी शमी के पौधे की पूजा करने से भोलेनाथ की कृपा प्राप्त होती है. मान्यता है कि सोमवार के दिन शिवलिंग पर शमी के पौधे की पत्तियां अर्पित करने से भोलेशंकर भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *