बी ग्रेड फिल्मो में संजय दत्त की पत्नी दे चुकी है बोल्ड सीन, इस हालत में पकड़ी गयी थी संजू बाबा की पत्नी

Posted on

दत्त खानदान की बहू बनने के बाद मान्यता ने फिल्म इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया.मान्यता का जन्म एक मुस्लिम परिवार में हुआ था.पहले मान्यता का नाम दिलनवाज शेख था.मान्यता की परवरिश दुबई में हुई.वे जब बॉलीवुड में आईं तो उन्होंने अपना नाम सारा खान रख लिया.फिल्म इंडस्ट्री में वो इसी नाम से पहचानी जाती थीं.

मान्यता को पहली बार पहचान तब मिली जब उन्होंने प्रकाश झा की फिल्म ‘गंगाजल’ में आइटम नंबर किया.फिल्म के आइटम सॉन्ग ‘अल्हड़ जवानी’ में मान्यता ने जबरदस्त डांस परफॉर्मेंस दी थी.

मान्यता एक सक्सेसफुल हीरोइन बनना चाहती थीं.लेकिन उन्हें कभी कोई बड़ी फिल्म ऑफर नहीं हुई.उन्होंने B ग्रेड फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था.मान्यता की फिल्म के राइट्स संजय दत्त ने खरीद लिए थे.

प्रकाश झा की फिल्म में आइटम नंबर करने के बाद उन्होंने अपना नाम बदलकर मान्यता रख लिया था.मान्यता ने संजय दत्त से दूसरी शादी की.संजय से पहले मान्यता की शादी मेराज उर रहमान के साथ हुई थी.

मान्यता और उनके पहले पति के बीच आपसी तालमेल की कमी थी जिसकी वजह से उनका तलाक हो गया.इतना सब होने के बाद मान्यता के पिता का निधन हो गया जिसके बाद उनके ऊपर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा.परिवार की जिम्मेदारी मान्यता के कंधों पर थीं जिसकी वजह से वो अपना ध्यान फिल्मों पर नहीं दे पाईं

मान्यता ने हमेशा संजय का साथ दिया. साल 2013 में संजय को साढ़े तीन साल की जेल की सजा हुई. संजू के जेल जाने के बाद मान्यता ने अकेले दोनों बच्चों को संभाला. 25 फरवरी, 2016 में संजय को उनके अच्छे व्यवहार की वजह से अवधि पूरी होने से पहले ही रिहा कर दिया गया. जब संजय कैंसर से जूझ रहे थे उस समय भी मान्यता ने हिम्मत नहीं हारी और अकेले ही सबकुछ संभाला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *